Social Icons

Latest News


1. Asia stocks flat in muted session, dollar recovers some losses
Asian stocks were little changed on Tuesday, in thin trade and with little to guide them as most major markets were closed on Monday for Christmas holidays, while the dollar reclaimed some of its losses from Monday. MSCI's broadest index of Asia-Pacific shares outside Japan was flat, with Australia closed. Japan's Nikkei was also unchanged.

2. रुपये की खराब शुरुआत, 10 पैसे की गिरावट.
कल रिकवरी दिखाने के बाद आज रुपये ने खराब शुरुआत की है। डॉलर के मुकाबले रुपया 10 पैसे की गिरावट के साथ 67.84 पर खुला है। सोमवार के कारोबारी सत्र में डॉलर के मुकाबले रुपया 8 पैसे की तेजी के साथ 67.74 पर बंद हुआ था।

3. सोने-चांदी में जोरदार तेजी, क्रूड में सुस्ती
क्रिसमस की छुट्टियों के चलते अंतर्राष्ट्रीय बाजारों में सुस्ती छाई हुई है। फिलहाल ब्रेंट क्रूड 55 डॉलर के करीब कारोबार कर रहा है। नायमैक्स पर डब्ल्यूटीआई क्रूड 0.2 फीसदी बढ़कर 53 डॉलर के आसपास कारोबार कर रहा है।
हालांकि, डॉलर में मामूली गिरावट आई है। डॉलर में गिरावट से सोने में तेजी देखने को मिल रही है। फिलहाल कॉमैक्स पर सोना 0.5 फीसदी की मजबूती के साथ 1,140 डॉलर के करीब पहुंच गया है। कॉमैक्स पर चांदी करीब 1 फीसदी की तेजी के साथ 15.9 डॉलर पर कारोबार कर रही है।

4. मार्च के बाद पुराने नोट मिलने पर होगी जेल!
अगर अभी भी आपने 500 और 1000 के पुराने नोट जमा नहीं किए हैं तो जल्द जमा करा दीजिए। क्योंकि 31 मार्च के बाद अगर पुराने नोट आपके पास पाए गए तो आपको 4 साल तक की जेल हो सकती है। सीएनबीसी-आवाज़ को मिली एक्सक्लूसिव जानकारी के मुताबिक सरकार इसके लिए एक अध्यादेश लाने की तैयारी में है। इसके तहत 30 दिसंबर के बाद पुराने नोट को जमा करने के लिए आपको कठोर शर्तें पूरी करनी पड़ सकती हैं।
सूत्रों का कहना है कि 31 मार्च के बाद पुराने नोट रखना गैरकानूनी होगा। साथ ही 31 मार्च के बाद पुराने नोट से कारोबार करना भी गैरकानूनी होगा। 31 मार्च के बाद पुराने नोट मिले तो जेल होगी और पुराने नोट पर 4 साल की जेल का प्रावधान है। यही नहीं  31 मार्च के बाद पुराने नोट मिलने पर जुर्माना भी संभव है। पुराने नोट मिलने पर कम से कम 5,000 रुपये का जुर्माना लगाया जा सकता है।
30 दिसंबर तक पुराने नोट जमा करने की आखिरी तारीख है। लेकिन इसके बाद अगर कोई नोट जमा करना चाहे तो ये बताना होगा कि आखिर अब तक नोट क्यों नहीं जमा किए। खुद अगर रिजर्व बैंक नहीं पहुंच सकते तो डाक के जरिये पुराने नोट और साथ में घोषणापत्र भेज सकते हैं। घोषणापत्र में ये बताना होगा कि खुद क्यों नहीं आए, और अब तक नोट क्यों नहीं जमा किए। रिजर्व बैंक आपकी दलीलों से सहमत नहीं हुआ तो पुराने नोट को नकार भी सकता है। सरकार जल्द ही नए नियम के लिए अध्यादेश ला सकती है।

5. India needs lower taxation levels: Arun Jaitley
Finance Minister Arun Jaitley on Monday said that India now needs to move to a lower level of taxation to be globally competitive.
"What you need is lower level of taxation, to provide services more competitive in nature. Competition is not domestic, it is global. This is one important change you will witness while you will be in service," Jaitley said.
He was addressing the officers at inauguration of professional training of 68th batch of Internal Revenue Service (IRS) (C&CE) Officers at National Academy of Customs Excise and Narcotics here.
With less than 5 days to go for December 30 deadline set by Prime Minister Narendra Modi to ease money supply, the cash crunch continues with people lining outside banks and ATMs to withdraw their money.

No comments:

Post a Comment

 
 
Blogger Templates